गौरा-महेश को बेटी-जवांई के रूप में विवाह-बंधन में बांधने का पर्व: सातूं-आठूं (गंवरा या गमरा)


गौरा से यहां की पर्वत पुत्रियों ने बेटी का रिश्ता बना लिया हैं, तो देवों के देव जगत्पिता महादेव का … अधिक

प्रकृति को संजोऐ एक वास्तविक हिल स्टेशन, रानी पद्मावती का खेत-रानीखेत


विकास की दौड़ में पीछे छूटती प्राकृतिक सुन्दरता व नैसर्गिक शांति यदि आज भी किसी पर्वतीय नगर में उसके मूल … अधिक

उत्तराखंड के निकायों में सफाई कर्मियों, पशु चिकित्साधिकारियों व शिक्षिकाओं सहित डेढ़ दर्जन पद समाप्त


-प्रति एक हजार की जनसंख्या पर आउटसोर्सिंग से अधिकतम दो पर्यावरण मित्र ही होंगे तैनात नवीन जोशी, नैनीताल। उत्तराखंड सरकार … अधिक

उत्तराखंड की सांस्कृतिक राजधानी-रत्नगर्भा अल्मोड़ा


चंद शासकों की राजधानी रहे अल्मोड़ा की मौजूदा पहचान निर्विवाद तौर पर उत्तराखंड की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में है। … अधिक

समृद्ध सांस्कृतिक विरासत सहेजे द्वाराहाट और स्याल्दे बिखौती का मेला


‘ओ भिना कसिकै जानूं द्वारहाटा’ जैसे कुमाऊं के लोकप्रिय लोक गीतों में वर्णित और कत्यूरी शासनकाल में राजधानी रहा द्वाराहाट … अधिक

पंचाचूली की गोद में ‘सात संसार-एक मुनस्यार’


नवीन जोशी नैनीताल । देवभूमि कुमाऊं में एक स्थान ऐसा भी है, जिसके बारे में कोई कहता है-‘सार संसार-एक मुनस्यार’, और कोई ‘सात … अधिक

::युवा दिवस 12 जनवरी, 152वीं जयंती पर पर विशेष: नैनीताल से ही नरेंद्र बना था शिकागो का राजर्षि विवेकानंद


-नैनीताल जनपद के काकड़ीघाट में ‘बोधि वृक्ष’ सरीखे पीपल का पेड़ के नीचे स्वामी विवेकानंद को हुऐ थे अणु में ब्रह्मांड … अधिक

कुमाऊं विवि में विकसित हो रही भविष्य की ‘नैनो दुनिया’, एक साथ दो पेटेंट फाइल कर रचा इतिहास


आलेख पढ़ने को यहाँ क्लिक करें…

पूरे कुमाऊं के बिना कैसा कुमाऊं विश्वविद्यालय, चल रही राजनीतिक कारणों से तोड़ने की तैयारी


कभी भी हो सकती है घोषणा कुमाऊं विवि को तोड़कर नए पर्वतीय विवि की स्थापना पर खुश नहीं प्राध्यापक सरकार … अधिक

पाषाण युग से यायावरी का केंद्र रहा है कुमाऊं


-पाषाणयुगीन हस्तकला को संजोए लखु उडियार से लेकर रामायण व महाभारत काल में हनुमान व पांडवों से लेकर प्रसिद्ध चीनी … अधिक

भारत का स्विटजरलेंड, गांधी-पंत का ‘कौसानी’


 महाकवि कालीदास के कालजयी ग्रंथ कुमार संभव में नगाधिराज कहे गए हिमालय को बेहद करीब से निहारता और राष्ट्रपिता महात्मा … अधिक

विभिन्न विषयों पर पुराने अधिक पसंद किए गए पोस्ट


यहां हैं, हमारे ब्लॉग-ऊंचे पहाड़ों से जीवन के स्वर, मन कही, उत्तराखंड समाचार, प्रकृति मां और पत्रकारिता के गुर हमारे दिल में बसता है, हमारा नैनीताल, … अधिक