विश्व व भारत में रेडियो-टेलीविज़न का इतिहास तथा कार्यप्रणाली


इस आलेख को पढने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें 

प्रकृति को संजोऐ एक वास्तविक हिल स्टेशन, रानी पद्मावती का खेत-रानीखेत


विकास की दौड़ में पीछे छूटती प्राकृतिक सुन्दरता व नैसर्गिक शांति यदि आज भी किसी पर्वतीय नगर में उसके मूल … अधिक

चार हजार वर्ष पुराना हड़प्पा कालीन है उत्तराखंड राज्य का इतिहास


नवीन जोशी, नैनीताल । उत्तराखंड राज्य के प्रसिद्ध इतिहासकार प्रो.राम सिंह के अनुसार उत्तराखंड का इतिहास चार हजार वर्ष पुराना है। … अधिक

उत्तराखंड की सांस्कृतिक राजधानी-रत्नगर्भा अल्मोड़ा


चंद शासकों की राजधानी रहे अल्मोड़ा की मौजूदा पहचान निर्विवाद तौर पर उत्तराखंड की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में है। … अधिक

राजुला-मालूशाही और उत्तराखंड की रक्तहीन क्रांति की धरती, कुमाऊं की काशी-बागेश्वर


पोस्ट पढ़ने को यहां क्लिक करें।

कुमाउनी ऐपण: शक, हूण सभ्यताओं के साथ ही तिब्बत, महाराष्ट्र, राजस्थान व बिहार की लोक चित्रकारी की भी मिलती है झलक


पोस्ट पढ़ने को यहाँ क्लिक करें .

महंगा हुआ नैनीताल क्लब, तो सुविधाएं भी लगीं बढ़ने


अब कमरों में देख सकेंगे टीवी, और मिलेगी खुद चाय तैयार करने जैसी अनेक सुविधाएं ढाई करोड़ से 48 पुराने सूट … अधिक

नगर पालिका के हाथों से छिना ‘शरदोत्सव’, अब ‘सत्ता’ कराएगी ‘नैनीताल शीतोत्सव’


‘शीतोत्सव’ के नए अवतार में परिवर्तित हो जाएगी 1890 से जारी ‘शरदोत्सव’परंपरा -नगर पालिका से राज्य की ‘सत्ता’ के हाथ … अधिक

ढाई हजार वर्ष पुरानी ऐतिहासिक थाती से रूबरू कराएगा हिमालय संग्रहालय


-ईशा से तीन सदी पूर्व की कुषाण कालीन स्वर्ण मुद्रा सहित उत्तराखंड में मिली और यहां की ऐतिहासिक विरासतें हैं … अधिक

इतिहास होने की ओर शेरशाह सूरी के जमाने की ‘गांधी पुलिस’ पर अब ‘नो वर्क-नो पे’ की तलवार


पटवारियों के लिए ‘नो वर्क-नो पे’ लागू करने में सरकार भी आएगी कटघरे में -‘तदर्थ” आधार पर चल रही प्रदेश … अधिक

स्कॉटलेंड से गहरा नाता रहा है कुमाऊं और उत्तराखंड का 


132 वर्ष के अंग्रेजी राज में 70 वर्ष रहे स्कॉटिश मूल के कमिश्नर ट्रेल, बेटन व रैमजे, अपने घर की … अधिक